राजस्थान पटवारी वेतन और जॉब प्रोफाइल – अवलोकन, वेतन, प्रोफाइल

राजस्थान अधीनस्थ और मंत्रालयिक सेवा चयन बोर्ड ने पटवारी भर्ती परीक्षा के लिए अधिसूचना जारी की थी। इसके लिए ऑनलाइन आवेदन 20 जनवरी 2020 को शुरू किए गए थे। बोर्ड ने रिक्तियों की संख्या में वृद्धि की और राजस्थान पटवारी 2021 परीक्षा के लिए आवेदन प्रक्रिया को फिर से आरंभ किया। आवेदन प्रक्रिया की अंतिम तिथि 29 जुलाई 2021 थी। इससे पहले लगभग 4421 रिक्तियों की घोषणा की गई थी। आवेदन प्रक्रिया पुनः आरंभ करने के बाद, 957- रिक्तियों की वृद्धि की गयी थी। अब पटवारी के पद के लिए रिक्तियों की अद्यतन संख्या 5370 है। राजस्थान पटवारी जॉब प्रोफाइल और राजस्थान पटवारी वेतन, भत्ते, सुविधाएं और कैरियर-विकास के बारे में जानने के लिए इस ब्लॉग को पूरा पढ़ें ।

Rajasthan-Patwari course

राजस्थान पटवारी परीक्षा: अवलोकन

पद पटवारी
परीक्षा संचालन निकायराजस्थान अधीनस्थ और मंत्रिस्तरीय सेवा चयन बोर्ड, जयपुर
रिक्तियां 5378
इन-हैंड वेतन Rs.24,380 / – 
आयु सीमा18 – 40 वर्ष (1 जनवरी 2021 तक)
शैक्षणिक योग्यताकिसी भी विषय में स्नातक की डिग्री / डिप्लोमा या डिग्री (कंप्यूटर विज्ञान या समकक्ष)
आधिकारिक वेबसाइटwww.rsmssb.rajasthan.gov.in

सभी योग्य उम्मीदवारों के लिए 2021 की राजस्थान पटवारी पद की भर्ती के लिए राजस्थान पटवारी जॉब प्रोफाइल और राजस्थान पटवारी वेतन के बारे में जानना बहुत जरुरी है। यह जानकारी आपको आपकी भविष्य की कमाई और नौकरी की जिम्मेदारियों से परिचित कराता है  और  परीक्षा में बेहतर प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित भी करता है। नौकरी की जिम्मेदारियों को समझने के अलावा, आप अपनी नियुक्ति के बाद मिलने वाले वेतन और उपलब्धियों के बारे में भी जानेंगे।

राजस्थान पटवारी वेतन  

सातवें वेतन आयोग के अनुसार राजस्थान पटवारी के पद के लिए वेतन और वेतनमान भुगतान मैट्रिक्स पर 5 है। इस पद के लिए न्यूनतम ग्रेड-पे 24,300/- रुपये है। वेतन संरचना में मूल वेतन, ग्रेड वेतन और अन्य भत्ते और सुविधाएं शामिल हैं। पटवारी पद के लिए नियुक्त उम्मीदवारों को दो साल के लिए परिवीक्षा अवधि के तहत रखा जाएगा। नियुक्त उम्मीदवारों को छह माह का प्रशिक्षण दिया जाएगा। इस अवधि के दौरान, उन्हें राजस्थान राज्य सरकार द्वारा प्रदान किया जाने वाला एक निश्चित वजीफा मिलेगा। सरकार इस कार्यकाल के दौरान डीए, एचआरए, यात्रा भत्ता, शहरी-मुआवजा भत्ता और विशेष वेतन जैसे अतिरिक्त भत्ते का भुगतान नहीं करेगी।

राजस्थान पटवारी वेतन संरचना 

राजस्थान पटवारी का कुल वेतन 24,380/- रुपये है। पटवारी पद के लिए विस्तृत राजस्थान पटवारी वेतन संरचना नीचे दी गई है:

क्रम संख्याविवरणराशि
1राजस्थान पटवारी वेतन ग्रेड24000 रुपये
2राजस्थान पटवारी मूल वेतन20800 रुपये
3महंगाई भत्ता2496 रुपये
4मकान किराया भत्ता1664 रुपये
5हार्ड ड्यूटी भत्ता1500 रुपये
6वेतन26400 रुपये
7एनपीएस (कटौती)2080 रुपये
 राजस्थान पटवारी-  इन-हैंड वेतन24380 रुपये

राजस्थान पटवारी वेतन: भत्ता   

राजस्थान पटवारी के पद के लिए उपलब्ध मूल भत्ते:

  • महंगाई भत्ता: राजस्थान पटवारी को मूल वेतन के 113% के रूप में डीए दिया जाता है। यह उस राज्य पर निर्भर करता है जहां आप नियुक्त हो।
  • मकान किराया भत्ता :- राजस्थान पटवारियों को एचआरए प्रदान किया जाता है। पटवारी सरकारी क्वार्टर या परिसर में रहने के लिए पात्र नहीं है। इसलिए उन्हें मकान किराया भत्ता मिलता है।
  • चिकित्सा लाभ: राजस्थान पटवारी को कर्मचारी और उनके आश्रितों जैसे जीवनसाथी, बच्चों और माता-पिता के इलाज के लिए चिकित्सा भत्ता मिलता है।
  • पेंशन: राजस्थान पटवारी को पेंशन मिलती है और केंद्रीय वेतन आयोग के दिशानिर्देशों के तहत पे-बैंड 1 के रूप में चिकित्सा और डीए जैसे अतिरिक्त लाभ मिलते हैं।

राजस्थान पटवारी जॉब प्रोफाइल 

  1. राजस्थान पटवारी तहसील के तहसीलदार के अधीन कार्य करता है।
  1. पटवारी दस या अधिक गांवों की देखभाल के लिए जिम्मेदार होता है।
  2. सीधे गांवों के किसानों से मिलते हैं।
  3. राज्य सरकार की ओर से किसानों से कृषि भूमि कर एकत्रित करता है।
  4. खसरा रजिस्टर में पटवारी प्रत्येक फसल का रिकॉर्ड रखता है।
  5. किसानों को कृषि-भूमि विवादों को निपटाने में मदद करना।
  6. किसानों के अनुरोध पर कृषि भूमि को मापना। 
  7. म्यूटेशन का रिकॉर्ड रखता है।
  8. आजकल, भूमि डेटा कंप्यूटर में संग्रहीत किया जाता है, इसलिए पटवारी इन प्रांतों में कृषि भूमि डेटा संग्रह और सर्वर पर इसे भरने के लिए जिम्मेदार है।
  9. ओलावृष्टि या बाढ़ में पटवारी को अपने अधिकार क्षेत्र में प्रभावित भूमि का अभिलेख तैयार कर तहसीलदार को जमा करना होता है।
  10. राज्य सरकार पटवारी से प्राप्त नुकसान की रिपोर्ट के आधार पर ग्रामीणों को मुआवजा जारी करती है।
  11. गांव से संबंधित विभिन्न मुद्दों के संबंध में उन्हें अन्य विविध कार्य सौंपे  जाते है।
  12.  राज्य में किए जाने वाले विभिन्न जनगणना कार्यों में पटवारी प्राथमिक प्रगणक होता है।

यह भी पढ़ें: राजस्थान पटवारी परीक्षा

राजस्थान पटवारी कैरियर विकास

उम्मीदवारों को पटवारी के रूप में नियुक्त किए जाने के बाद, उनके लिए विकास के कई अवसर उपलब्ध हैं। विभिन्न विभागीय परीक्षाएं आयोजित की जाती हैं, जिनके लिए उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं और उन्हें पास कर सकते हैं और अपने करियर में आगे बढ़  सकते हैं। निम्नलिखित सूची पटवारी के पद का पदानुक्रम प्रदान करती है, जिसे नए भर्ती विभागीय परीक्षाओं के माध्यम से ऊपर बढ़ सकते हैं।

  • राजस्थान पटवारी
  • राजस्थान नायब तहसीलदार
  • राजस्थान तहसीलदार
  • राजस्व उप निदेशक

निष्कर्ष

यदि आप सरकारी नौकरी की सुरक्षा चाहते हैं और राजस्थान पटवारी भर्ती परीक्षा के लिए योग्य आवेदक हैं, तो आपको परीक्षा को पास करने के लिए बहुत अच्छी तैयारी करनी होगी। ईमानदारी से अध्ययन करें और परीक्षा के लिए अच्छी तरह तैयार रहें। पाठ्यक्रम के अलावा, पिछले वर्ष के कट-ऑफ अंक को भी देखें  ताकि आपके पास तैयारी के लिए एक संभावित लक्ष्य हो। साथ ही, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर वर्तमान घटनाओं से अवगत रहें। बीच-बीच में ब्रेक लेकर दिन में कम से कम 6-7 घंटे पढ़ाई करें । समाचार पत्रों का अनुसरण करना या टेलीविजन पर समाचार देखना भी उचित है। ईमानदारी से अध्ययन करें और परीक्षा के लिए अच्छी तरह तैयार रहें और अपने सपने को साकार होते देखें।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न 

राजस्थान पटवारी जॉब प्रोफाइल के लिए परिवीक्षा अवधि क्या है?

राजस्थान पटवारी पद के लिए परिवीक्षा अवधि दो वर्ष है।

राजस्थान पटवारी वेतन क्या है?

राजस्थान पटवारी के पद के लिए वेतन 24,380/- रुपये है 

राजस्थान पटवारी के पद के लिए प्रशिक्षण अवधि क्या है?

राजस्थान पटवारी पद के लिए प्रशिक्षण अवधि छह माह है।

राजस्थान पटवारी वेतन के लिए मूल वेतन क्या है?

राजस्थान पटवारी का मूल वेतन 20,800/- रुपये है

राजस्थान पटवारी वेतन के साथ भत्ते और सुविधाएं  क्या हैं?

राजस्थान पटवारी को मिलने वाले विभिन्न भत्तों में निम्नलिखित शामिल हैं:
महंगाई भत्ता
मकान किराया भत्ता
चिकित्सा भत्ता
पेंशन  


Leave a comment